Savita Punia

अवॉर्ड मिला, लेकिन नौकरी नहीं: सविता पूनिया

by Team Patirap on Sep 27, 2018 No Comments

अर्जुन अवॉर्ड से सम्मानित किए जाने पर भारत की तेज तर्राट ओलंपिक हॉकी गोलरक्षक सविता पूनिया ने कहा, ‘मुझे अर्जुन अवॉर्ड अपनी पूरी भारतीय टीम की 18 लड़कियों, पूरे स्पोर्ट स्टाफ और परिवार से मिले सहयोग के कारण ही मिल पाया है। हॉकी दरअसल टीम गेम है। हॉकी में बिना पूरी टीम के सहयोग से किसी भी टीम की कामयाबी और जीत मुमकिन नहीं है। मैंने हॉकी में आज अर्जुन अवॉर्ड सहित जो कुछ भी पाया पूरी टीम के सहयोग के कारण ही पाया।

यह भी पढ़े: शतरंज ओलंपियाड चैंपियनशिप: भारत ने आस्ट्रिया को 3.5-0.5 से दी मात

आश्वासन मिला लेकिन नौकरी नहीं

सविता आगे कहती है ‘मेरी हॉकी में कामयाबी में परिवार के समर्थन का बेहद अहम योगदान है। हरियाणा सरकार से मैं पिछले नौ बरस से नौकरी की गुहार कर रही हूं लेकिन मुझे केवल आश्वासन मिला लेकिन नौकरी नहीं। ‘हरियाणा सरकार की ओर से बार-बार यही कहा गया कि पॉलिसी बन रही है। मुझे अर्जुन अवॉर्ड मिलने की बेहद खुशी है लेकिन हरियाणा सरकार से आज भी नौकरी का इंतजार है।

जल्द नौकरी देने का दिलाया भरोसा

हॉकी गोलरक्षक बोली ‘मुझे नहीं मालूम कब हरियाणा सरकार की पॉलिसी बनेगी और कब मुझे नौकरी मिलेगी। मुझे हॉकी में मैंने भारतीय खेल प्राधिकरण (साई) में हॉकी कोच के लिए आवेदन किया है। खेल मंत्री राज्यवद्र्धन सिंह राठौड़ ने जल्द से जल्द नौकरी देने का भरोसा दिलाया है।’