Harshvardhan Kapoor

कपूर खानदान की सबसे सफल अभिनेत्री हैं जाह्नवी, भाई-बहन रह गए पीछे

by Team Patirap on Jul 21, 2018 No Comments

धड़क गर्ल अब से कपूर खानदान की सबसे सफल अभिनेत्री में शामिल हो गई हैं। कपूर खानदान की शुरुआत में सिर्फ दो बेटियां करि‍श्मा और करीना ही बॉलीवुड में आईं और दोनों ही सफल रही हैं। वही अनिल कपूर की बेटी सोनम कपूर ने अपनी डेब्यू फिल्म में कुछ खास नहीं कर पाई। लेकिन जाह्नवी कपूर ने अपनी पहली ही फिल्म से शानदार शुरुआत की है।

यह भी पढ़े: इरफान खान की फिल्म ‘कारवां’ के दूसरे गाने में कृति खरबंदा का स्पेशल अपीयरेंस

जाह्नवी कपूर ने तोड़े इन फिल्मो के रिकॉर्ड

कपूर खानदान के लिए यह फिल्म ‘धड़क’ कई मायनों में खास है। जाह्नवी कपूर की इस फिल्म को लेकर पूरा कपूर खानदान काफी उत्सुक है। आपको जानकर हैरानी होगी जाह्नवी ने अपने भाई-बहनों यानि की अर्जुन कपूर, सोनम कपूर और हर्षवर्धन का भी रिकॉर्ड तोड़ दिया है।

यह भी पढ़े: जब सोनाली बेंद्रे को हुआ कैंसर, तो ऐसा था बेटे का र‍िएक्‍शन

पहली फिल्म से जाह्नवी की शानदार शुरुआत

अर्जुन कपूर ने साल 2012 में आई फिल्म ‘इशकजादे’ से फिल्मी दुनिया में एंट्री मारी थी। इस फिल्म में अर्जुन और परिणीति की केमेस्ट्री को लोगों ने खूब पसंद किया था। फिल्म ने पहले दिन 4.54 करोड़ का बिजनेस किया था। वही सोनम कपूर सोनम ने संजय लीला भंसाली की फिल्म ‘सावरियां’ के जरिए बॉलीवुड में डेब्यू किया था। रणबीर ने इसी फिल्म से डेब्यू किया था। फिल्म ने पहले दिन 30 लाख की कमाई की थी।

हर्षवर्धन कपूर ने फिल्म ‘मिर्जया’ से बॉलीवुड में डेब्यू किया था। इस फिल्म ने पहले दिन 2.20 करोड़ की कमाई की थी। वही जाह्नवी कपूर की फिल्म ‘धड़क’ ने पहले दिन की कमाई 8.71 करोड़ की कमाई है। लिहाजा जाह्नवी कपूर ने अपनी पहली ही डेब्यू फिल्म से अपने भाई-बहनो को पीछे कर दिया हैं।

Movie Review: प्रयास छोटा, लेकिन सोच बड़ी – ‘भावेश जोशी सुपरहीरो’

by Team Patirap on Jun 1, 2018 No Comments

‘भावेश जोशी सुपरहीरो’ की कहानी ऐसे तीन आम इंसानों पर बुनी गई हैं जो देश से भ्रष्टाचार मिटाने के लिए हर संभव प्रयास करते हैं। इसमें सिकंदर खन्ना (हर्षवर्धन कपूर), भावेश जोशी (प्रियांशु पेनयुली) और रजत (आशीष वर्मा) ने ऐसे देसी सुपरहीरो का अवतार निभाया है, जिसके पास कोई भी शक्ति नहीं है लेकिन वो अपने देश में होने वाले भ्रष्टाचार के खिलाफ आवाज बुलंद करता है और एक मुहिम छेड़ता है।

इसे भी पढ़े: ईशा देओल की फिल्मों में हुई वापसी, ‘केकवॉक’ का फर्स्ट लुक जारी

फिल्म की कहानी

डायरेक्टर विक्रमादित्य मोटवानी की इस फिल्म की कहानी में ये तीनो चाहते हैं कि राजनेताओं की वजह से जो भ्रष्टाचार और गदंगी फैली है, उससे लोगों को मुक्ति दिलाएं। तीनों कई दिनों तक बिगड़ी व्यवस्था बेनकाब करने और सुधारने की कोशिश करते हैं। लेकिन बाद में सिकंदर और रजत को लगता है कि वे ऐसा करने में सफल नहीं हो रहे हैं तो वे अपने मिशन को बीच में ही छोड़ देते हैं।

इसे भी पढ़े: Movie Review: 2018 में ‘वीरे दी वेडिंग’ दूसरी एंटरटेनमेंट वाली बड़ी फिल्म

भष्टाचार के खिलाफ छेड़ी गई एक मुहिम

लेकिन भावेश अपने मिशन को नहीं छोड़ता और चाहता है कि उसके दोनों दोस्त दोबारा उसके साथ मिशन में जुड़ जाएं। भावेश, लोकल पॉलिटिशियन (निशिकांत कामत) जो पानी माफिया है, को एक्सपोज करने में जुट जाता है। ऐसे में क्या ये तीनों भष्टाचार के खिलाफ छेड़ी गई मुहिम को अंजाम दे पाते हैं या नहीं इसके लिए आपको नजदीकी सिनेमाघरों में जाकर पूरी फिल्म देखने पड़ेगी।

सोशल मिडिया की बात की जाए तो इस पर मिलने वाले फिल्म के रिएक्शन्स काफी अच्छे हैं। फिल्म को ज्यादातर पत्रकारों ने पसंद किया है और इसकी तारीफ कर रहे हैं। पत्रकारों के साथ-साथ आम दर्शक और फिल्म इंडस्ट्री के लोगों को भी फिल्म काफी जबरदस्त लगी है। इस समय ट्विटर से लेकर हर कही हर्षवर्धन कपूर और फिल्म के डायरेक्टर विक्रमादित्य मोटवानी की तारीफें हो रही हैं।