Asian Games 2018

हिमा दास बनी यूनिसेफ इंडिया की युवा एंबेसडर

by Team Patirap on Nov 15, 2018 No Comments

एशियाई खेलों की स्वर्ण पदक विजेता हिमा दास को बुधवार को संयुक्त राष्ट्र बाल निधि (यूनिसेफ) इंडिया का युवा एंबेसडर बनाया गया है। हिमा बच्चों के अधिकारों और आवश्यकताओं के बारे में जागरुकता बढ़ाने, बच्चों और युवाओं की आवाज को मजबूत करने का काम करेंगी। यूनिसेफ इंडिया ने ट्वीट किया कि हमारी युवा एंबेसडर, हिमा दास हैं।

अभी पढ़े: PKL 6: तमिल थलाइवाज के खिलाफ हरियाणा स्टीलर्स ने खेला टाई मुकाबला

पहली युवा एंबेसडर बनी हिमा दास

बाल दिवस उत्सव के अवसर पर हिमा दास यूनिसेफ इंडिया की पहली युवा एंबेसडर बनी। हिमा दास ने जुलाई 2018 में फिनलैंड में आयोजित आईएएफ विश्व अंडर-20 चैम्पियनशिप की महिलाओं की 400 मीटर स्पर्धा में स्वर्ण पदक जीतकर इतिहास रचा था।

2020 में पदक लाने की प्रबल दावेदार

इससे पहले, वह अप्रैल में गोल्ड कोस्ट में हुए राष्ट्रमंडल खेलों की 400 मीटर स्पर्धा में तत्कालीन भारतीय अंडर 20 रिकॉर्ड 51. 32 सेकेंड के समय के साथ छठे स्थान पर रही थीं। हिमा दास 2020 टोक्यों में होने जा रहे इंटरनेशनल एथलीटिक्स मीट में देश के लिए पदक लाने की प्रबल दावेदार हैं।

अवॉर्ड मिला, लेकिन नौकरी नहीं: सविता पूनिया

by Team Patirap on Sep 27, 2018 No Comments

अर्जुन अवॉर्ड से सम्मानित किए जाने पर भारत की तेज तर्राट ओलंपिक हॉकी गोलरक्षक सविता पूनिया ने कहा, ‘मुझे अर्जुन अवॉर्ड अपनी पूरी भारतीय टीम की 18 लड़कियों, पूरे स्पोर्ट स्टाफ और परिवार से मिले सहयोग के कारण ही मिल पाया है। हॉकी दरअसल टीम गेम है। हॉकी में बिना पूरी टीम के सहयोग से किसी भी टीम की कामयाबी और जीत मुमकिन नहीं है। मैंने हॉकी में आज अर्जुन अवॉर्ड सहित जो कुछ भी पाया पूरी टीम के सहयोग के कारण ही पाया।

यह भी पढ़े: शतरंज ओलंपियाड चैंपियनशिप: भारत ने आस्ट्रिया को 3.5-0.5 से दी मात

आश्वासन मिला लेकिन नौकरी नहीं

सविता आगे कहती है ‘मेरी हॉकी में कामयाबी में परिवार के समर्थन का बेहद अहम योगदान है। हरियाणा सरकार से मैं पिछले नौ बरस से नौकरी की गुहार कर रही हूं लेकिन मुझे केवल आश्वासन मिला लेकिन नौकरी नहीं। ‘हरियाणा सरकार की ओर से बार-बार यही कहा गया कि पॉलिसी बन रही है। मुझे अर्जुन अवॉर्ड मिलने की बेहद खुशी है लेकिन हरियाणा सरकार से आज भी नौकरी का इंतजार है।

जल्द नौकरी देने का दिलाया भरोसा

हॉकी गोलरक्षक बोली ‘मुझे नहीं मालूम कब हरियाणा सरकार की पॉलिसी बनेगी और कब मुझे नौकरी मिलेगी। मुझे हॉकी में मैंने भारतीय खेल प्राधिकरण (साई) में हॉकी कोच के लिए आवेदन किया है। खेल मंत्री राज्यवद्र्धन सिंह राठौड़ ने जल्द से जल्द नौकरी देने का भरोसा दिलाया है।’

शतरंज ओलंपियाड चैंपियनशिप: भारत ने आस्ट्रिया को 3.5-0.5 से दी मात

by Team Patirap on No Comments

विश्व रैपिड चैंपियन विश्वनाथन आनंद के शानदार खेल के दम पर भारतीय पुरुष टीम ने 43वीं शतरंज ओलंपियाड चैंपियनशिप में बुधवार को आस्ट्रिया को 3.5-0.5 से मात देकर लगातार दूसरी जीत दर्ज की। 12 साल बाद ओलंपियाड में खेल रहे आनंद, मार्कस रैगर को पराजित किया।

यह भी पढ़े: महिला टी-20: भारत ने श्रीलंका को 7 विकेट से हरा 3-0 से सीरीज पर किया कब्ज़ा

भारतीय टीम संयुक्त रूप से शीर्ष पर

अन्य मैचों में पी हरिकृष्णा ने वेलेटाइन ड्रागनेव को और विदित गुजराती ने आंद्रेस को पराजित किया। बी अधिबान ने पीटर के साथ ड्रॉ खेला। इस जीत से भारतीय टीम चार अंकों के साथ 40 अन्य टीमों के साथ संयुक्त रूप से शीर्ष पर है। अगले दौर में भारत का सामना कनाडा से होगा।

महिला टीम ने वेनेजुएला को 4-0 से दी मात

वहीं, महिला टीम ने वेनेजुएला को 4-0 से मात दी। 33 टीमों में शीर्ष पर चल रही भारतीय टीम की भिड़ंत अगले दौर में सर्बिया से होगी।

किस अधूरेपन के लिए बोले शाहरुख खान, ‘हम सब कहीं न कहीं अधूरे हैं’

by Team Patirap on No Comments

कुछ समय पहले ही करण जौहर द्वारा साझा की गई तस्वीर में बॉलीवुड के बड़े सितारे एक फ्रेम में नजर आ रहे हैं, जिसमें एक बॉलीवुड के किंग खान शाहरुख़ भी शामिल हैं। इस तस्वीर में आमिर खान, रणबीर कपूर से लेकर आलिया भट्ट, दीपिका पादुकोण से लेकर रणवीर सिंह जैसे स्टार्स शाहरुख खान पर टूट पड़े हैं। वैसे शाहरुख़ को शुरू से एशियाई खेलों के प्रति काफी लगाव रहा हैं।

अभी पढ़े: Thugs of Hindostan Trailer: आजादी के लिए आपस में लड़ते नज़र आए आमिर-अमिताभ

शाहरुख खान ने भारतीय पैरालंपिक दल को दी बधाई

इस बीच बॉलीवुड के बादशाह शाहरुख खान ने भारतीय पैरालंपिक दल को पैरा एशियाई खेल 2018 के लिए बधाई देते हुए कहा कि हम सभी कहीं न कहीं अधूरे होते हैं और कमियों से लड़कर इस अधूरेपन को भरा जा सकता है। दिल्ली आए 52 वर्षीय अभिनेता ने कहा कि लोगों को अपनी अपूर्णता को भरने के लिए अपनी कमजोरी से लड़ना होता है।

अभी पढ़े: हॉट ड्रेस में कातिलाना अदाए दिखाती टीवी की नागिन मौनी रॉय, देखें तस्वीरें

शाहरुख बोले ‘हम कहीं न कहीं अधूरे’

उन्होंने खिलाड़ियों से कहा, ‘‘हम कहीं न कहीं अधूरे होते हैं। कभी शारीरिक मामले में, कभी हम मानसिक रूप से परिपक्व नहीं हो पाते। तो कभी भावनात्मक रूप से। हम सभी में कोई न कोई कमी होती है। कहा जाता है कि भगवान ने हमें उसकी तरह बनाया है लेकिन उसके जैसा नहीं।’’

शाहरुख खान ने कहा, ‘‘उन्होंने हमें दुनिया में भेजा ताकि हम अपनी कमियों से पार पाएं और अपने जीवन को पूरा करें। नौकरी, आर्थिक स्थिरता, स्टारडम और शक्ति हमें पूरा नहीं करती। हमें अपने अधूरेपन को पूरा करने के लिए अपनी कमियों से लड़ना होगा।’’

Asian Games 2018: इस वजह से मैं चूक गया: नीरज चोपड़ा

by Team Patirap on Sep 12, 2018 No Comments

नीरज ने जकार्ता एशियाई खेलों में अपने 88.06 मीटर के सर्वश्रेष्ठ थ्रो के साथ स्वर्ण पदक पर कब्जा जमाया था। एशियाई खेलों में स्वर्ण पदक जीतने के बाद उन्होंने चेक गणराज्य में आईएएएफ कांटिनेंटल कप में हिस्सा लिया। लेकिन चेक गणराज्य के ओस्ट्रावा में हुए कांटिनेंटल कप में नीरज पदक जीतने से चूक गए।

अभी पढ़े: INDvsENG: केएल राहुल (नाबाद 108) का तूफानी शतक, लड़खड़ाती भारतीय पारी को संभाला

पहले ही राउंड में बाहर हो गए नीरज

टूर्नामेंट में वह पहले ही राउंड में बाहर हो गए और कुल छठे स्थान पर रहे। ऐसे में कांटिनेंटल कप के बारे में उन्होंने कहा, “नए नियम होने के कारण इसमें अच्छे मुकाबले देखने को मिले। यह दिमाग का खेल ज्यादा है लेकिन इससे मुझे कुछ नया सीखने को मिला है।”

तीसरा थ्रो हो गया था फाउल

उन्होंने कहा, “पहले दो प्रयास में मैंने 80-79 मीटर का थ्रो किया और तीसरे प्रयास में 85 मीटर का किया। लेकिन तीसरा थ्रो फाउल हो गया था। इस वजह से मैं इसमें चूक गया। हालांकि मैं इन गलतियों से सीख रहा हूं और आगे इसमें सुधार करूंगा।”

Asian Games 2018: प्रणब-शिभनाथ की जोड़ी ने भारत को दिलाया 15वां स्वर्ण पदक

by Team Patirap on Sep 1, 2018 No Comments

भारत के प्रणब बर्धन और शिभनाथ सरकार ने यहां जारी 18वें एशियाई खेलों के 14वें दिन शनिवार को पुरुषों की युगल स्पर्धा का स्वर्ण पदक अपने नाम किया है। 60 साल के प्रणब और 56 साल के शिभनाथ सरकार की जोड़ी 384 अंक हासिल करते हुए स्वर्ण पदक पर कब्जा जमाया। भारत का यह इन खेलों में 15वां स्वर्ण है।

यह भी पढ़े: Asian Games 2018: युवा मुक्केबाज अमित पंघल ने भारत के लिए जीता 14वां स्वर्ण पदक

भारत ने की 15 स्वर्ण पदक की बराबरी

इसी के साथ भारत ने 1951 में दिल्ली में खेले गए पहले एशियाई खेलों में जीते गए 15 स्वर्ण पदक की बराबरी कर ली है। इससे पहले ब्रिज में भारतीय पुरुष टीम और मिक्स्ड टीम ने कांस्य पदक जीता था। प्रणब और शिबनाथ के अलावा एक और भारतीय जोड़ी ने फाइनल में हिस्सा लिया, लेकिन वह नौवें स्थान पर रहे।

चीन और इंडोनेशिया ने हासिल किया रजत-कांस्य पदक

दरअसल, भारत के ही सुमित मुखर्जी और देबाब्रत मजूमदार 333 अंक लेकर नौवें स्थान पर रहे। सुभाष गुप्ता सपन देसाई की भारतीय टीम 306 अंकों के साथ 12वें स्थान पर रही। चीन के लिक्सिन यैंग और गैंग चेन (378) ने रजत और इंडोनेशिया के हेंकी लासूत और फ्रेडी एडी मनोप्पो (374) ने कांस्य पदक हासिल किया।