IPL 2018 (Final) : SRH को 8 विकेट से हराकर CSK तीसरी बार चैम्पियन

No Comments 92 Views

IPL 2018 (Final) : SRH को 8 विकेट से हराकर CSK तीसरी बार चैम्पियन

वाटसन की बेहतरीन पारी (57 गेंदों में नाबाद 117 रन) की बदौलत चेन्नई ने लीग के 11वें सीजन के फाइनल में रविवार को वानखेड़े स्टेडियम में सनराइजर्स हैदराबाद को 8 विकेट से हरा दिया। इस तरह अपने सातवें फाइनल में चेन्नई ने तीसरी बार आईपीएल का खिताब अपने नाम कर लिया है। आईपीएल हिस्ट्री में चेन्नई मुंबई इंडियंस के बाद दूसरी ऐसी टीम बन गई है जिसने तीसरी बार ये खिताब जीता है।

यह भी पढ़े: CSK vs SRH: फाइनल में MS धोनी की टीम का पलड़ा भारी, जाने कैसे ?

खिताब की हैट्रिक पूरी

हैदराबाद ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 20 ओवरों में छह विकेट के नुकसान पर 178 रनों का मजबूत स्कोर बनाया था। जवाब में वाटसन ने एक छोर पर अकेले खड़े होकर हैदराबाद के गेंदबाजों की जमकर धुनाई की और चेन्नई को 18.3 ओवरों में ही लक्ष्य तक पहुंचा दिया। चेन्नई ने अपनी पारी में सिर्फ दो विकेट खोए। ऐसे में दो साल के प्रतिबंध के बाद वापसी करने वाली चेन्नई को धोनी ने सीजन 11 का चैंपियन बनाकर खिताब की हैट्रिक पूरी कर ली।

यह भी पढ़े: SRH vs KKR: रोमांचक मुकाबले में हैदराबाद ने कोलकाता को 13 रन से हराया

टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी के लिए आमंत्रित हैदराबाद के सलामी बल्लेबाज श्रीवत्स गोस्वामी (5) दूसरे ओवर की पांचवीं गेंद पर गलतफहमी के चलते 13 के कुल स्कोर पर रन आउट हो गए। इसके बाद शिखर धवन (26) और केन विलियमसन (47) की जोड़ी ने टीम को संभाला और स्कोर बोर्ड को अच्छे से चलाया। दोनों ने दूसरे विकेट के लिए 51 रनों की साझेदारी की।

लेकिन धोनी ने गेंद रवींद्र जडेजा को थमाई जिन्होंने 64 के कुल स्कोर पर धवन को बोल्ड कर दिया। अर्धशतक की ओर बढ़ रहे विलियमसन का विकेट 101 के कुल स्कोर पर गिरा। उनकी कोशिश कर्ण शर्मा की लेग स्पिन पर आगे बढक़र शॉट मारने की जिसमें वो चूक गए और धोनी ने उन्हें स्टम्प किया। शाकिब अच्छी लय में थे। वह 14 गेंदों में दो चौके और एक छक्के की मदद से 23 रन बना चुके थे, लेकिन अपनी पारी की 15वीं गेंद पर वह सुरेश रैना के हाथों लपके गए।

दीपक हुड्डा (3)17वें ओवर की आखिरी गेंद पर 144 के कुल स्कोर पर लपके गए। यहां से ब्रैथवेट और पठान ने मोर्चा संभाला। हैदराबाद के लिए अंत में कार्लोस ब्रैथवेट ने 10 गेंदों में तीन छक्कों की मदद से 21 रन बनाए। वहीं युसूफ पठान का बल्ला इस मैच में चल पड़ा और वह 25 गेंदों में चार चौके और दो छक्कों की मदद से 45 रन बनाकर नाबाद लौटे। इन दोनों ने आखिरी के तीन ओवरों में 34 रन जोड़ अपनी टीम को चुनौतीपूर्ण स्कोर प्रदान किया।

ब्रैथवेट पारी की आखिरी गेंद पर आउट हुए। चेन्नई के लिए लुंगी नगिदी, रवींद्र जडेजा, शार्दूल ठाकुर, कर्ण शर्मा, ड्वायन ब्रावो ने एक-एक विकेट लिए। वही, हैदराबाद की ओर से संदीप शर्मा और ब्रैथवेट ने एक-एक विकेट लिए। रोहित (साल 2013, 2015 और 2017) के बाद अब धोनी ने भी चेन्नई सुपर किंग्स को तीन बार आईपीएल चैंपियन बना दिया है। इससे पहले चेन्नई सुपर किंग्स ने महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी में साल 2010 और 2011 का खिताब अपने नाम किया था।

Tags:  
No Comments

Reader Interactions