नेशनल अवॉर्ड: श्रीदेवी को पहली बार राष्‍ट्रीय पुरस्‍कार मिलने पर भावुक हुए बोनी कपूर

Team Patirap on May 4, 2018 No Comments 78 Views

नेशनल अवॉर्ड: श्रीदेवी को पहली बार राष्‍ट्रीय पुरस्‍कार मिलने पर भावुक हुए बोनी कपूर

गुरुवार को दिल्‍ली में 65वें राष्‍ट्रीय पुरस्‍कार समारोह का आयोजन हुआ। इसमें बॉलीवुड अभिनेत्री श्रीदेवी को उनके निधन के बाद उनकी फिल्म ‘मॉम’ के लिए 65वें नेशनल फिल्म अवॉर्ड ने नवाजा गया। बोनी कपूर ने अपनी दोनों बेटियों जाह्नवी कपूर और ख़ुशी कपूर के साथ श्रीदेवी का नेशनल अवार्ड ग्रहण किया। बोनी कपूर ने वहाँ की कुछ तस्वीरें शेयर की जिसमे देश के राष्ट्रपति श्री रामनाथ कोविंद के हाथों बोनी कपूर और उनकी दोनों बेटियों ने श्रीदेवी का नेशनल अवार्ड लिया।

यह भी पढ़े: तो इस तरह चल रही हैं सोनम कपूर की शादी की तैयारियां, 10 दिन पहले सजा घर

इस समारोह में सबसे ज्यादा चर्चा दिवंगत अभिनेत्री श्रीदेवी को लेकर हुई। ये वहां मौजूद सभी लोगों के लिए काफी भावुक लम्हा था। दिवगंत श्री देवी को उनके करियर की 300वीं फिल्म ‘मॉम’ के लिए पुरस्कार दिया गया और यह उनका पहला राष्‍ट्रीय पुरस्‍कार था।श्री देवी की बड़ी बेटी जाह्नवी कपूर इस समारोह में अपनी मां की ही साड़ी पहने नजर आई ये साड़ी श्रीदेवी के दोस्त फैशन डिजाइनर मनीष मल्होत्रा ने डिजाइन की थी।

यह भी पढ़े: गोविन्द के साथ चूजा …. ‘फ्राइडे’ में होगा डबल धमाल

इस सम्मान समारोह में 140 में से 11 विजेताओं को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने सम्मानित किया है। जबकि बाकी विजेताओं को सूचना एवं प्रसारण मंत्री स्मृति ईरानी ने अवॉर्ड दिया। वही मरणोपंरात विनोद खन्ना को दादा साहब फाल्के अवॉर्ड दिया गया। इस अवॉर्ड को लेने के लिए उनके बेटे और अभिनेता अक्षय खन्ना आए। इस दौरान अक्षय खन्ना और उनकी माँ कविता खन्ना बेहद भावुक हो गईं थी।

बेस्‍ट फिल्‍म: विलेज रॉकस्‍टार (असमिया फिल्‍म) बेस्‍ट एक्‍ट्रेस : श्रीदेवी (मॉम) बेस्‍ट एक्‍टर: रिद्धि सेन (नागा कीर्तन बंगाली फिल्‍म) बेस्‍ट सपोर्टिंग एक्‍ट्रेस: दिव्‍या दत्ता (इरादा) बेस्‍ट हिंदी फिल्‍म: न्‍यूटन बेस्‍ट एक्‍शन डायरेक्शन: बाहुबली 2 बेस्‍ट कॉरियोग्राफी: ‘गोरी तू लठ्ठ मार’ (टॉयलेट एक प्रेम कथा) स्‍पेशल इफेक्‍ट्स: बाहुबली 2 स्‍पेशल जूरी अवॉर्ड: नगर कीर्तन (बंगाली फिल्‍म) बेस्‍ट बेकग्राउंड स्‍कोर: मॉम बेस्‍ट एडिटिंग : विलेज रॉकस्‍टार (असमिया फिल्‍म)

No Comments

Reader Interactions