बॉल टैम्परिंग मामले के बाद वॉर्नर-स्मिथ की आँखों से झलका दर्द

Team Patirap on Mar 31, 2018 No Comments 139 Views

बॉल टैम्परिंग मामले के बाद वॉर्नर-स्मिथ की आँखों से झलका दर्द

इन दिनो ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट टीम के कप्तान स्टीव स्मिथ और उपकप्तान डेविड वॉर्नर चर्चा में चल रहे है और उसका कारण है उनके द्वारा की गई बॉल टेंपरिंग है। बता दें कि इस मामले की वजह से उनको क्रिकेट से 1 साल के लिए बैन कर दिया गया है और वो कभी कप्तान नहीं बन पाएंगे। इस मामले में कई बड़े दिग्गज क्रिकेट्स ने बयान देते हुए स्टीव स्मिथ और वार्नर के प्रति संवेदना व्यक्त की है।

इसे भी पढ़े: IPL 2018: वार्नर के बाद SRH को लगा एक और झटका, इस खिलाडी ने किया इंकार

फिलहाल बॉल टैम्परिंग मामले के पांच दिन बाद ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट टीम के पूर्व उपकप्तान डेविड वॉर्नर ने सार्वजनिक रुप से माफी मांगी। वॉर्नर ने कहा, मैं ऑस्ट्रेलियाई और दुनिया के सभी क्रिकेट फैंस से मांफी मांगता हूं। मैं सिडनी जा रहा हूं। मुझसे बड़ी गलती हो गई, जिससे क्रिकेट को नुकसान पहुंचा। मैं घटना की जिम्मेदारी लेता हूं। इस तरह उन्होंने बॉल टैंपरिंग मामले में माफी मांगी है।

माफी मांगने के लिए कुछ भी करने को तैयार

प्रेस कॉन्फ्रेंस में वॉर्नर ने नम आंखों से साउथ अफ्रीका के खिलाफ टेस्ट में हुई बॉल टैंपरिंग के लिए खेद जताया। उन्होंने हालांकि खेल से रिटायरमेंट की संभावना से इनकार कर दिया और साथ ही शपथ ली कि वह ऑस्ट्रेलियाई पब्लिक से माफी मांगने के लिए कुछ भी करने को तैयार हैं। इसी बीच अब स्टीव स्मिथ ने भी सार्वजनिक रुप से माफी मांगी।

इसे भी पढ़े: स्‍टीव स्मिथ और डेविड वार्नर महान खिलाड़ी हैं – रोहित शर्मा

खेलना चाहते हैं ऑस्ट्रेलिया के लिए

स्मिथ ने टैंपरिंग मामले में माफी मानते हुए कहा, ये बड़ी भूल थी, इसका अंजाम अब समझ में आ रहा है। बता दें कि इससे पहले बुधवार को क्रिकेटऑस्ट्रेलिया ने स्मिथ और वॉर्नर पर एक साल का बैन लगाया था। अब वे आईपीएल में भी नहीं खेल पाएंगे। लेकिन खिलाड़ियों को उम्मीद है कि वह 12 महीने के प्रतिबंध के बाद एक बार फिर ऑस्ट्रेलिया के लिए खेलेंगे।

बॉल टैंपरिंग मामले में स्मिथ को अपने पद से इस्तीफा देना पड़ा था। इसके साथ ही उन पर 12 महीने का प्रतिबंध भी लगा दिया गया। इसके अलावा स्मिथ को इंडियन प्रीमियर लीग राजस्थान रॉयल्स की कप्तानी से हटना पड़ा था। लेकिन अभी भी उनके दिल में उनके देश के लिए खेलने की उत्सुकता हैं। इसके लिए उन्होंने कहा, ‘मेरे दिमाग में कहीं न कहीं यह बात यह है कि एक दिन फिर मुझे अपने देश का प्रतिनिधित्व करने का मौका मिलेगा।’

Tags:  
No Comments

Reader Interactions